Triyama Blogs

By Rohit J on Dec 23, 2016, 12:00 AM

Swami Dayananda - स्वामी दयानंद : https://drive.google.com/folder/d/0B1giLrdkKjfRZnUxOEpPSVBHVzQ/edit Aadi Shankaracharya - आद्य शंकराचार्य :...

Know More


By Swapnil Waman on Mar 5, 2016, 12:00 AM

A FEW INTERESTING IRONIES OF INDIA..... Indian mothers want their daughter to control their husband and expect their son to control their wives. Parents want their children to stand out...

Know More


By Rohit J on Mar 3, 2016, 12:00 AM

Nice line from Ratan Tata's Lecture -                          1. If u...

Know More


By Rohit J on Mar 3, 2016, 12:00 AM

  आज का विचार: चिड़िया जब जीवित रहती है तब वो चिंटी को खाती है चिड़िया जब मर जाती है तब चींटियाँ उसको खा जाती है।  इसलिए इस बात का ध्यान रखो कि...

Know More


By Rohit J on Mar 3, 2016, 12:00 AM

धीमें से पढ़ें बहुत ही अर्थपूर्ण है यह मेसेज... हम और हमारे ईश्वर, दोनों एक जैसे हैं। जो रोज़ भूल जाते हैं... वो हमारी गलतियों को, हम...

Know More


By Rohit J on Feb 29, 2016, 12:00 AM

वक़्त का पता नहीं चलता अपनों के साथ..... पर अपनों का पता चलता है, वक़्त के साथ... वक़्त नहीं बदलता अपनों के साथ, पर अपने ज़रूर बदल जाते हैं वक़्त के साथ...!!!

Know More


By Rohit J on Feb 28, 2016, 12:00 AM

कोई सोना चढाए , कोई चाँदी चढाए ; कोई हीरा चढाए , कोई मोती चढाए ; चढाऊँ क्या तुझे भगवन ; कि ये निर्धन का डेरा है ; अगर मैं फूल चढाता हूँ , तो वो भँवरे का जूठा है ;...

Know More


By Rohit J on Feb 26, 2016, 12:00 AM

  Question→ जीवन का उद्देश्य क्या है ? Answer→ जीवन का उद्देश्य उसी चेतना को जानना है - जो जन्म और मरण के बन्धन से मुक्त है। उसे जानना ही मोक्ष है..!! Question→ जन्म और मरण...

Know More


By Rohit J on Feb 25, 2016, 12:00 AM

घनश्यामदास जी बिड़ला का अपने पुत्र बसंत कुमार जी बिड़ला के नाम 1934 में लिखित एक अत्यंत प्रेरक पत्र जो हर एक को जरूर पढ़ना चाहिए - चि. बसंत..... यह जो लिखता हूँ उसे बड़े होकर और बूढ़े होकर भी...

Know More


By Rohit J on Jan 29, 2016, 12:00 AM

चाणक्य के 15 अमर वाक्य | सीखें और सीखयें | 1)दुनिया की सबसे बड़ी ताकत पुरुष का विवेक और महिला की सुन्दरता है। 2)हर मित्रता के पीछे कोई स्वार्थ जरूर होता है, यह कड़वा सच है।...

Know More


By Rohit J on Jan 29, 2016, 12:00 AM

When the ancient Chinese decided to live in peace, they made the great wall of China. They thought no one could climb it due to its height. During the first 100 years of its existence,...

Know More